Breaking News
26 फरवरी खास होगा.. झारखंड के लिए पीएम मोदी 226.71 करोड़ की सौगात देंगे.. 26 फरवरी को तोहफों की झड़ी  |  लोकसभा चुनाव के लिए BJP का 'लाभार्थी संपर्क अभियान' से प्लान से गांव तक पैठ बनाने की तैयारी  |  "हेमंत सोरेन ने मेरी बात मानी होती.. तो आज जेल में नहीं होते" …JMM विधायक के बगावती तेवर!  |  “आज मेरी तो कल तेरी..” भाजपा नेताओं पर भड़के झामुमो विधायक, झारखंड में सरकार गिरने की बड़ी वजह बता दी..  |  PM Kisan Yojana: हजारों किसानों को लग सकता है बड़ा झटका! अब ये करने पर ही मिलेंगे 2000 रुपये..  |  चंपई सरकार ने विधानसभा में हासिल किया विस्वास मत, पक्ष में पड़े 47 वोट  |  '..बाल बांका करने की ताकत', विधानसभा में फूटा हेमंत सोरेन का गुस्सा, ED-BJP के साथ राजभवन को भी घेरा  |  CM बनते ही एक्शन में चंपई सोरेन, 3 वरिष्ठ अधिकारियों की दी बड़ी जिम्मेदारी; लॉ एंड ऑर्डर सख्त करने की तैयारी  |  अयोध्या के लिए Special Train.. 29 जनवरी को 22 कोच के साथ रवाना होगी आस्था स्पेशल एक्सप्रेस, जानें ट्रेन का शेड्यूल  |  अयोध्या के लिए Special Train.. 29 जनवरी को 22 कोच के साथ रवाना होगी आस्था स्पेशल एक्सप्रेस, जानें ट्रेन का शेड्यूल  |  
पर्यटन

उमेश कुमार झा, झारखण्ड लाइफ। 19/04/2023 :
धनबाद में इको टूरिज्म विकसित करने की तैयारीयां.. टुंडी के जंगलों में वॉच टावर बनाने की योजना..
 
धनबाद में इको टूरिज्म विकसित करने की दिशा में प्रयास तेज कर दिया गया है। जिला प्रशासन और वन विभाग मिलकर ऐसे इको टूरिज्म सेंटर काे विकसित करने में लगे हैं, जहां लोग खुद को प्रकृति के बेहद नजदीक पा सकें। वे प्राकृतिक सौंदर्य का भरपूर आनंद उठा सकें और पर्यावरण, जंगल व पेड़ोंं का महत्व समझ सकें।


धनबाद में टुंडी,  तोपचांची,  मैथन और पंचेत में इको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए योजनाएं बनाई जा रही हैं। इसी कड़ी में टुंडी के जंगलों में वॉच टावर बनाने की योजना है।


उसके जरिए पर्यटक जंगल के बीच ऊंचाई से हरियाली और वन्य जीवों को भी देख सकेंगे। टुंडी के जंगलों में साल के हाथियों का दल महीनों तक निवास करता है। हाथी साहेबगंज, जामताड़ा और गिरिडीह होते हुए धनबाद के टुंडी और तोपचांची के पहाड़ी इलाके में आते-जाते रहते हैं। उन्हें प्राकृतिक वातावरण में करीब से देखना पर्यटकों के लिए निश्चित रूप से बेहद रोमांचक होगा। इसे ध्यान में रखकर ही टुंडी के जंगलों में वॉच टॉवर बनाने की पहल की जा रही है। इसके बाद तोपचांची और अन्य इलाकों में भी जंगलों के बीच और पहाड़ियों के निकट वॉच टावर बनाए जाएंगे।


मैथन और पंचेत डैम में भी इको टूरिज्म को बढ़ावा देने पर कार्य चल रहा है। इसके तहत मैथन डैम में सबसे पहले पर्यटकों के लिए बोटिंग की शुरुआत की जाएगी। जिला प्रशासन और वन विभाग का प्रयास है कि अगले 6 महीने में मैथन डैम में बोटिंग की शुरुआत कर दी जाए। इसके बाद यहां पर्यटकों के लिए और भी कई चीजों की शुरुआत की जाएगी। वहीं, पर्यटन विभाग के साथ खेल विभाग मैथन डैम में एडवेंचर स्पोर्ट्स विकसित करने की दिशा में भी काम कर रहा है।


तोपचांची झील को भी इको टूरिज्म को ध्यान में रखकर विकसित किया जाएगा। यहां चारों तरफ फैली पहाड़ियां और उनके बीच झील मनोरम छटा बिखेरती है। पर्यटक झील और पहाड़ियों को करीब से आनंद उठा सकें, इसके लिए यहां इको टूरिज्म संबंधी विकास के कार्य किए जाएंगे।


इस सन्दर्भ में धनबाद DFO  विकास पालीवाल ने कहा की -  "धनबाद में इको टूरिज्म को बढ़ावा देने का प्रयास किया जा रहा है। राज्य सरकार का भी इको टूरिज्म पर खास फोकस है। टुंडी के जंगलों में वॉच टावर बनाने की योजना है। इससे पर्यटक हाथी समेत दूसरे वन्य जीवों को देख पाएंगे।",



झारखंड की बड़ी ख़बरें
»»
Video
»»
संपादकीय
»»
विशेष
»»
साक्षात्कार
»»
पर्यटन
»»


Copyright @ Jharkhand Life
')