Breaking News
क्या आप करते है रूम हीटर और अंगीठी का इश्तेमाल? अबतक दम घुटने से 4 दिनों में 7 की मौतें, 66 लोग पहुंचे रिम्स  |  जमाखोरों और सूदखोरों के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी थी निर्मल महतो ने, झारखंड के इस कद्दावर नेता की दिन दहाड़े हत्या कर दी गई थी, सीएम हेमंत सोरेन ने जयंती पर दी श्रद्धांजलि  |  झारखंड में मिले 55 पॉजिटिव, कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी:रांची और कोडरमा में तेजी से फैल रहा कोरोना, हेल्थ डिपार्टमेंट अलर्ट  |  चक दे झारखण्ड: भारतीय महिला हॉकी टीम के कैंप के लिए 4 बेटियों का हुआ चयन,झारखंड के 6 खिलाड़ियों को मौका  |  झारखंड दे रहा देश को दिशा: झारखंड की दीदी बगिया योजना व सखी मंडल गतिविधियों को दूसरे राज्य भी करें लागू : एनएन सिन्हा   |  लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने का विरोध:झारखंड के मंत्री ने कहा- बढ़ाने के बजाय कम करनी चाहिए उम्र, UP के सपा सांसद बोले- आवारगी करेंगी लड़कियां  |  धनबाद में जज हत्या मामला: हाईकोर्ट ने कहा- CBI डायरेक्टर को बुला कर ही सवाल पूछना होगा, परिणाम की जगह केवल रिपोर्ट मिल रहा  |  Karnataka Congress MLA’s “enjoy rape” remark controversy and reactions  |  बैंक कर्मियों के हड़ताल: कोडरमा-चतरा जिले में 230 करोड़ का कारोबार प्रभावित  |  20 दिसंबर के बाद झारखंड में बढ़ेगी ठंड: कश्मीर की बर्फीली हवा राज्य में बढ़ाएगी कनकनी, दो दिन बाद बारिश के आसार  |  
क्षेत्रीय

Kriti Verma 26/12/2021 :
क्या आप करते है रूम हीटर और अंगीठी का इश्तेमाल? अबतक दम घुटने से 4 दिनों में 7 की मौतें, 66 लोग पहुंचे रिम्स
 
जहां मौतें हुईं हैं, वहां देखा गया है कि कमरे में एक भी ऐसा कोना नहीं था, जहां से हीटर या अंगीठी का गैस बाहर निकल सके। चूंकि, अंगीठी से कार्बन मोनोक्साइड निकलता है, जो जानलेवा है। इसलिए, इसके इस्तेमाल से पूर्व सावधानी जरूरी है।

राजधानी में पिछले सप्ताह से कड़ाके की ठंड पड़ रही है। सुबह और शाम लाेगाें का बाहर निकलना मुश्किल हाे गया है। ठंड से बचने के लिए किए गए प्रयास कई लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहे हैं, क्योंकि बड़ी लापरवाही बरती जा रही है।

जानकारी के अनुसार, लोग ठंड से बचने के लिए कमरे को बंदकर रूम हीटर और अंगीठी जला लेते हैं और आलस व गर्माहट के कारण कई बार लोग इसे बंद करना भूल जाते है, जो मौत का बड़ा कारण बन रहा है। जहां मौतें हुईं हैं, वहां देखा गया है कि कमरे में एक भी ऐसा कोना नहीं था, जहां से हीटर या अंगीठी का गैस बाहर निकल सके। चूंकि, अंगीठी से कार्बन मोनोक्साइड निकलता है, जो जानलेवा है। इसलिए, इसके इस्तेमाल से पूर्व सावधानी जरूरी है। 10 दिनों में रिम्स की ओपीडी में 66 लोग एेसे पहुंचे हैं, जिन्हें रूम हीटर के इस्तेमाल से परेशानी हुई।

यहीं नहीं, पिछले चार दिनों में ही बंद कमरे में हीटर और अंगीठी के इस्तेमाल से 7 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। इसके अलावा इसी महीने के 17 दिसंबर को लोहरदगा के पूर्व विधायक कमल किशोर भगत की भी मौत का कारण यहीं पता चल रहा है। रिम्स के एक्सपर्ट चिकित्सक डॉ. संजय सिंह के अनुसार, रूम को पूरी तरह बंद कर हीटर नहीं जलाना चाहिए।

कई लोगों में देखी गई है सांस की बीमारी

रिम्स रिकॉर्ड के अनुसार, पिछले 10 दिनों में रिम्स में 66 ऐसे मामले मेडिसिन ओपीडी पहुंचे, जिन्हें रूम हिटर के कारण परेशानी हुई थी। मेडिसिन की यूनिट के डॉक्टरों ने बताया कि ज्यादातर मरीज सांस की समस्या लेकर आए थे। कुछ पहले से दमा की हिस्ट्री वाले, फेफड़े में संक्रमण वाले और अन्य बीमारियों से ग्रसित थे। मरीजों से बातचीत के क्रम में उन्होंने डॉक्टरों को बताया कि बंद कमने में हीटर के इस्तेमाल से परेशानी हुई है।

केस-1 एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत

21 दिसंबर को हजारीबाग में एक दर्दनाक हादसा हुआ। रूम हीटर जलाकर सोने के कारण एक परिवार के 3 लोगों की मौत हो गई। दम घुटने से परिवार के 40 वर्षीय शाहिद अनवर उर्फ रिंकू खान, उनकी पत्नी 35 वर्षीय निकहत परवीन और 5 वर्षीय पुत्र अख्तर ने कमरे में ही दम तोड़ दिया। रिम्स में पोस्टमार्टम हुआ।

केस- रांची के दो इलाकों में 4 की मौत

राजधानी में 23 दिसंबर को दो अलग-अलग इलाकों में चार लोगों की मौत हुई। मधुकम स्थित शांति नगर में पिता और पुत्र की दम घुटने से मौत हो गई। समलौंग बेलाबगान रोड के रहने वाले एक ही परिवार के दो लोगों की मौत दम घुटने से हो गई। शीतल लखानी और मान्या लखानी दोनों बहनों ने दम तोड़ दिया।

इस्तेमाल के दौरान क्या बरतें सावधानी

  • 1. अलाव जलाकर उसके पास न सोएं। साथ में पानी से भरी बाल्टी जरूर रखें।
  • 2. आग जलाएं तो जमीन पर सोने से बचें। हीटर का प्रयोग थोड़े समय के लिए ही करें।
  • 3. घर में अगर कोई बच्चा हो, तो आग न जलाएं।
  • 4. हीटर या अंगीठी के सामने प्लास्टिक और कपड़े न रखें।
  • 5. घर में वेंटिलेशन हो तभी अलाव, हीटर या ब्लोअर चलाएं।



झारखंड की बड़ी ख़बरें
»»
Video
»»
संपादकीय
»»
विशेष
»»
साक्षात्कार
»»
पर्यटन
»»


Copyright @ Jharkhand Life