Breaking News
पीएम मोदी ने देवघर एयरपोर्ट का किया उदघाटन, करोड़ो रूपये के योजनाओं का किया शिलान्यास  |  केरल पहुंचा मॉनसून, झमाझम बारिश शुरू, जानें झारखंड में कब पहुंचेगा मॉनसून  |  लद्दाख में झारखंड का लाल सड़क हादसे में शहीद  |  चौथे चरण में शांतिपूर्वक तरीके से चल रहा मतदान  |  कैसे गिरी थी बाबरी मस्जिद: आँखों देखी लाइव रिपोर्ट  |  Jharkhand Corona Update: WHO और राज्य सरकार के अध्ययन के मुताबिक कोविड से मरने वाले 55% लोग गरीबी रेखा से नीचे के  |  पुतिन-मोदी मुलाकात LIVE: रूसी राष्ट्रपति ने कहा- भारत महान शक्ति और भरोसेमंद दोस्त; दोनों देशों के बीच 6 सेक्टर्स में समझौते संभव  |  माओवादियों ने लगाए पोस्टर लिखा: RSS के निर्देश पर केंद्र सरकार किसान,मजदूर, नौजवान व मानवाधिकार कार्यकर्ताओं पर कर रही हमले, विरोध का ऐलान  |  दिल्ली पहुंचा ओमिक्रॉन:तंजानिया से लौटे यात्री में मिला संक्रमण, देश में 4 दिन में नए वैरिएंट के 5 केस सामने आए  |  हिंदपीढ़ी के युवक मुजाहिद को मारी गई गोली, आक्रोशित लोगों ने हमले के आरोपी का घर जलाया, एक युवक गिरफ्तार  |  
राष्ट्रीय
29/05/2022 :15:07
केरल पहुंचा मॉनसून, झमाझम बारिश शुरू, जानें झारखंड में कब पहुंचेगा मॉनसून
 
झारखंड में 10 से 15 जून के बीच मॉनसून आ सकता है. 17 मई से अंडमान में मॉनसून की बारिश शुरू हो गयी है. मौसम विभाग का पूर्वानुमान था कि एक जून से पूर्व ही केरल में मॉनसून आ सकता है जो सही साबित हुआ. इस वर्ष अंडमान निकोबार में तय समय से छह दिन पहले मॉनसून की बारिश शुरू हो गयी. आम तौर पर अंडमान में 22 मई के आसपास मॉनसून आता है.

मौसम विभाग ने जल्द ही मॉनसून के आने की घोषणा कर दी है. मौसम विभाग के मुताबिक केरल में मॉनसून ने दस्‍तक दे दी है. मॉनसून के आने से पहले केरल के अलग-अलग जिलों में जमकर बारिश हो रही है. केरल में मॉनसून आने के बाद भारी बारिश की संभावना है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने एक पखवाड़े पहले ही बंगाल की खाड़ी में आए चक्रवाती तूफान आसनी ' के प्रभाव के कारण शुक्रवार (27 मई) से ही केरल में मॉनसून की शुरुआत का अनुमान जताया था.

मौसम विभाग ने मॉनसून को लेकर क्‍या कहा

मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पश्चिम मॉनसून के अगले दो से तीन दिनों के दौरान केरल पहुंचने का अनुमान है. सैटेलाइट तस्वीरों में केरल तट और उससे सटे दक्षिण पूर्व अरब सागर में बादल छाए हुए हैं. इसलिए अगले दो से तीन दिनों के दौरान केरल में मॉनसून की शुरुआत के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं. मौसम संबंधी नये संकेतों के अनुसार दक्षिण अरब सागर के निचले स्तरों में पछुआ हवाएं चलनी तेज हो गई हैं .

अंडमान व निकोबार में पहले ही पहुंच चुका था मॉनसून

मॉनसून वक्त से काफी पहले १६ मई को अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह पहुंच गया था और चक्रवात के शेष प्रभाव के चलते इसके आगे बढ़ने के आसार थे. अब मॉनसून केरल पहुंच गया है, जिसके कारण जल्द ही इसके कुछ दिनों में शेष भारत में पहुंचने की संभावना है.

झारखंड में कब पहुंचेगा मॉनसून

झारखंड में 10 से 15 जून के बीच मॉनसून आ सकता है. 17 मई से अंडमान में मॉनसून की बारिश शुरू हो गयी है. मौसम विभाग का पूर्वानुमान था कि एक जून से पूर्व ही केरल में मॉनसून आ सकता है जो सही साबित हुआ. इस वर्ष अंडमान निकोबार में तय समय से छह दिन पहले मॉनसून की बारिश शुरू हो गयी. आम तौर पर अंडमान में 22 मई के आसपास मॉनसून आता है. मौसम विभाग ने पूर्वानुमान किया है कि मॉनसून की बारिश सामान्य होगी. मौसम विभाग के अनुसार, दो जून तक झारखंड के कई हिस्सों में हल्की बारिश होगी. 29 मई को यानी रविवार को राज्य के पूर्वी और मध्य भागों में गर्जन और वज्रपात के साथ बारिश हो सकती है. हवा की गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे रहने की संभावना है. गर्मी से परेशान लोगों को मौसम बदलने के साथ राहत मिलेगी. अभी राज्य के करीब सभी जिलों का अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से नीचे चल रहा है.

शुरुआती दौर में मॉनसून की वर्षा रहेगी कमजोर

आकलन ये भी किया जा रहा है कि शुरुआती दौर में मॉनसून की वर्षा कमजोर रहेगी और फसलों की बुवाई में कुछ परेशानी हो सकती है. पूर्वोत्तर राज्यों में झमाझम बारिश की संभावना है.

कब किस राज्य में मॉनसून के पहुंचने का अनुमान

-10 से 15 जून के बीच झारखंड और बिहार मॉनसून पहुंचने की संभावना

-05 जून आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, असम

-10 जून पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, महाराष्ट्र

-15 जून को छत्तीसगढ़

-20 जून गुजरात, मध्य प्रदेश, यूपी, उत्तराखंड

-25 जून राजस्थान, हिमाचल

-30 जून हरियाणा, पंजाब

 




झारखंड की बड़ी ख़बरें
»»
Video
»»
संपादकीय
»»
विशेष
»»
साक्षात्कार
»»
पर्यटन
»»


Copyright @ Jharkhand Life