Breaking News
क्या आप करते है रूम हीटर और अंगीठी का इश्तेमाल? अबतक दम घुटने से 4 दिनों में 7 की मौतें, 66 लोग पहुंचे रिम्स  |  जमाखोरों और सूदखोरों के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी थी निर्मल महतो ने, झारखंड के इस कद्दावर नेता की दिन दहाड़े हत्या कर दी गई थी, सीएम हेमंत सोरेन ने जयंती पर दी श्रद्धांजलि  |  झारखंड में मिले 55 पॉजिटिव, कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी:रांची और कोडरमा में तेजी से फैल रहा कोरोना, हेल्थ डिपार्टमेंट अलर्ट  |  चक दे झारखण्ड: भारतीय महिला हॉकी टीम के कैंप के लिए 4 बेटियों का हुआ चयन,झारखंड के 6 खिलाड़ियों को मौका  |  झारखंड दे रहा देश को दिशा: झारखंड की दीदी बगिया योजना व सखी मंडल गतिविधियों को दूसरे राज्य भी करें लागू : एनएन सिन्हा   |  लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने का विरोध:झारखंड के मंत्री ने कहा- बढ़ाने के बजाय कम करनी चाहिए उम्र, UP के सपा सांसद बोले- आवारगी करेंगी लड़कियां  |  धनबाद में जज हत्या मामला: हाईकोर्ट ने कहा- CBI डायरेक्टर को बुला कर ही सवाल पूछना होगा, परिणाम की जगह केवल रिपोर्ट मिल रहा  |  Karnataka Congress MLA’s “enjoy rape” remark controversy and reactions  |  बैंक कर्मियों के हड़ताल: कोडरमा-चतरा जिले में 230 करोड़ का कारोबार प्रभावित  |  20 दिसंबर के बाद झारखंड में बढ़ेगी ठंड: कश्मीर की बर्फीली हवा राज्य में बढ़ाएगी कनकनी, दो दिन बाद बारिश के आसार  |  
राष्ट्रीय

Kriti Verma 22/11/2021 :
एयरफोर्स के ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को वीर चक्र सम्मान, मार गिराया था पाक का एफ-16 फाइटर जेट
 
विंग कमांडर अभिनंदन कुमार अब ग्रुप कैप्टन हो चुके हैं। भारतीय सेना में ग्रुप कैप्टन की रैंक कर्नल के बराबर है। जब अभिनंदन ने पाकिस्तानी फाइटर प्लेन को मार गिराया था, उस समय वह 51 स्क्वाड्रन का हिस्सा थे। वह श्रीनगर के करीब अविंतापुरा एयर बेस पर तैनात थे। ग्रुप कैप्टन अभिनंदन के पिता भी वायुसेना में ऑफिसर थे और अब रिटायर हो चुके हैं।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने सोमवार को एयरफोर्स के ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्तमान को वीर चक्र से सम्मानित किया। अभिनंदन को यह सम्मान पाकिस्तान के खिलाफ अदम्य साहस के प्रदर्शन के लिए दिया गया है। 

तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन ने अपने Mig-21 प्लेन के जरिये उड़ान भर ना सिर्फ पाकिस्तानी एयरफोर्स के विमानों को भारतीय सीमा में घुसने से रोका बल्कि पाकिस्तानी फाइटर प्लेन F-16 को भी मार गिराया था। अभिनंदन ने अपने साहस और शौर्य से पूरे देश को गौरवान्वित किया।

विंग कमांडर अभिनंदन कुमार अब ग्रुप कैप्टन हो चुके हैं। भारतीय सेना में ग्रुप कैप्टन की रैंक कर्नल के बराबर है। जब अभिनंदन ने पाकिस्तानी फाइटर प्लेन को मार गिराया था, उस समय वह 51 स्क्वाड्रन का हिस्सा थे। वह श्रीनगर के करीब अविंतापुरा एयर बेस पर तैनात थे। ग्रुप कैप्टन अभिनंदन के पिता भी वायुसेना में ऑफिसर थे और अब रिटायर हो चुके हैं।

बालाकोट एयरस्ट्राइक 26 फरवरी के अगले दिन 27 फरवरी को पाकिस्तानी एयरफोर्स के प्लेन ने भारत में घुसने की कोशिश की। मुस्तैद इंडियन एयरफोर्स ने उसे खदेड़ा। विंग कमांडर अभिनंदन उस समय Mig-21 उड़ा रहे थे। विंग कमांडर ने अदम्य शौर्य का परिचय देते हुए पाकिस्तान के F-16 को मार गिराया। 

बाद में अभिनंदन का विमान पाकिस्तान बॉर्डर एरिया में क्रैश हो गया। इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें बंदी बना लिया था। हालांकि, भारत के दबाव के बाद पाकिस्तान ने करीब 60 घंटे बाद उन्हें छोड़ दिया था।

'इसे मैं खदेड़ता हूं, यह मेरा शिकार है', विंग कमांडर अभिनंदन ने यह मेसेज भारतीय आसमान की निगरानी कर रहे अपने साथियों को सिक्यॉर रेडियो के जरिए भेजा। इसके साथ ही 86 सेकेंड्स का वह नजदीकी मुकाबला शुरू हुआ, जिसे 'डॉग फाइट' नाम से जाना जाता है। 

पीछा करने की रफ्तार उस वक्त हवा में हर चार सेकंड में 1 किलोमीटर और एक घंटे में 900 किमी थी। यह आगे-पीछे चलने का खेल 26 हजार फीट की ऊंचाई छू गया। अंत में अभिनंदन ने एक मिसाइल दाग पाकिस्तान के F-16 को नष्ट कर दिया।

फरवरी 2019 में आतंकियों ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों की एक बस को आत्मघाती हमला कर उड़ा दिया था। इसके बाद भारत ने पाकिस्तान को जवाब देते हुए बालाकोट में एयरस्ट्राइक को अंजाम दिया था। भारतीय लड़ाकू विमानों ने एलओसी क्रॉस कर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में आतंकी कैंप पर बमबारी की थी। इस ऑपरेशन में 12 मिराज प्लेन शामिल थे। इस जवाबी हमले के बाद पाकिस्तान तिलमिला गया था।



झारखंड की बड़ी ख़बरें
»»
Video
»»
संपादकीय
»»
विशेष
»»
साक्षात्कार
»»
पर्यटन
»»


Copyright @ Jharkhand Life